August 15, 2022
जंग के बीच रूस का बड़ा दावा, मरियुपोल में 1000 से ज्यादा यूक्रेन के सैनिकों ने किया सरेंडर

[ad_1]

Russia Ukraine War: यूक्रेन-रूस जंग को करीब 50 दिन होने को है. इस बीच, रूस की तरफ से यूक्रेन के शहरों पर बमबारी का सिलसिला लगातार जारी है. इधर, रूस की तरफ से यह बड़ा दावा किया गया है कि मरियुपोल में यूक्रेन के करीब 1000 सैनिकों ने सरेंडर किया है. दूसरी तरफ, बूचा नरसंहार के बाद हुई आलोचना के बाद भी रूसी सैनिक सुधरते नहीं दिख रहे हैं. अब भी वे आम लोगों को अपना निशाना बना रहे हैं. यूक्रेन के आंतरिक मंत्रालय के मुताबिक, रूस ने फिर बर्बरता दिखाई है और रूसी सैनिको के हमले से बूचा और कीव के अन्य उपनगरों में 720 से अधिक लोग मारे गए हैं, जबकि 200 से अधिक लापता हैं.

बूचा के मेयर मेयर अनातोली फेडोरुक ने बताया कि, अकेले बूचा में ही 403 शव मिले हैं. मरने वालों की संख्या और बढ़ सकती है क्योंकि इस क्षेत्र में माइनस्वीपर्स की तलाशी ली जाती है. यूक्रेन के अभियोजक जनरल के कार्यालय ने कहा कि, वह ब्रोवरी जिले की घटनाओं पर भी गौर कर रहे हैं, जो उत्तर पूर्व में स्थित है. अधिकारियों ने बताया कि शेवचेनकोव गांव में एक तहखाने में छह नागरिकों के शव बंदूक की गोली के घाव के साथ मिले थे और माना जा जा रहा है कि इसके लिए रूसी सेना जिम्मेदार है.

वहीं, इन सबके बीच यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमिर जेलेंस्की ने रूस समर्थक वरिष्ठ राजनेता विक्टर मेदवेदचुक को मॉस्को की सेना द्वारा बंद किए जा रहे पुरुष और महिला कैदियों की जगह अदला-बदली करने का प्रस्ताव दिया है. जेलेंस्की ने कहा कि, “हमारे सुरक्षा बलों और सैन्य बलों के लिए इस तरह की संभावना पर विचार करना महत्वपूर्ण है.” दरअसल, यूक्रेन की सुरक्षा सेवाओं ने मंगलवार को कहा कि उन्होंने मेदवेदचुक को गिरफ्तार किया है, जो यूक्रेन में राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के सबसे करीबी और सबसे प्रभावशाली सहयोगी हैं.

ये भी पढ़ें: Russia Ukraine War: बूचा में फिर रूसी बर्बरता, मेयर का दावा, मॉस्को सेना ने मारे 720 से ज्यादा लोग, 200 से अधिक लापता

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.