August 13, 2022
Saira Banu, Dilip Kumar

[ad_1]

घर से बाहर निकल नहीं निकल पा रही

घर
से
बाहर
निकल
नहीं
निकल
पा
रही

वह
कहती
हैं
कि
मैं
इस
वजह
से
घर
से
बाहर
निकल
नहीं
निकल
पा
रही
हूं।
मैं
कैसे
इससेबाहर

सकती
हूं।
हम
दोनों
साथ
में
थे।
सब
कुछ
ठीक
था।
मुझे
साहब
के
घर
पर
रहना
अच्छा
लगता
था।
मैं
बाहर
पार्टी
करने
वाली
व्यक्ति
नहीं
हूं।सायरा
आगे
कहती
हैं
कि
उनके
जाने
के
बाद
मैंघर
से
बाहर
तक
नहीं
निकलना
चाहती
हूं।

केवल अपने करीबी दोस्तों के साथ मिल रही हूं

केवल
अपने
करीबी
दोस्तों
के
साथ
मिल
रही
हूं

मुझे
नहीं
पता
है
कि
कब
तक,
जब
तक
मैं
इससे
बाहर
नहीं

जाती

सच
बताऊं
तो
मैं
लोगों
के
साथ
घुल-मिल
नहीं
रही
हूं।
मैं
केवल
अपने
करीबी
दोस्तों
के
साथ
ही
मिल
रही
हूं।

मेडिटेशन और प्रेयर के सहारे

मेडिटेशन
और
प्रेयर
के
सहारे

दिलीप
साहेबको
याद
करते
हुए
उन्होंने
आगे
कहा
कि
मैं
खुश
किस्मत
हूं
कि
बहुत
सारे
लोग
मेरे
बारे
में
इतने
परेशान
हैं।
मैं
बहुत
मेडिटेशन
और
प्रेयर
कर
रही
हूं।
मैं
जानती
हूं
कि
इस
तरह
के
हालात
में
और
भी
लोग
रहे
हैं।
उस
दौर
से
बाहर
भी
आए
हैं।

बाहर आने में समय लगेगा

बाहर
आने
में
समय
लगेगा

शायद
मेरा
दिलीप
साहब
से
कुछ
अधिक
लगाव
था।
इस
वजह
से
मुझे
इस
सब
से
बाहर
आने
में
समय
लग
रहा
है।
गौरतलब
है
कि
दिलीप
कुमार
का
निधन
कोरोना
वायरस
के
दौरान
7
जुलाई
2021
को
98
साल
की
उम्र
में
लंबी
बीमारी
के
बाद
निधन
हो
गया।

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.