August 13, 2022
बढ़ने लगी इमरान की मुसीबत, गिफ्ट में मिले 18 करोड़ के हार को बेचने का आरोप, FIA ने शुरू की जांच

[ad_1]

पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी के चेयरमैन और पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान रैली कर-करके नई सरकार के खिलाफ मोर्चा खोले हुए हैं, तो दूसरी ओर सरकार ने अब इमरान खान के खिलाफ हर गड़बड़ी की शिकायत पर जांच कराना शुरू कर दिया है. इस क्रम में सामने आया है कि पीएम रहने के दौरान गिफ्ट के रूप में मिले एक महंगे हार को उन्होंने राज्य उपहार भंडार में जमा करने की जगह उसे 18 करोड़ रुपये में बेच दिया. अब इस मामले में पाकिस्तान की शीर्ष जांच एजेंसी एफआईए ने इमरान खान के खिलाफ जांच शुरू कर दी है.

क्या है रिपोर्ट में

रिपोर्ट के मुताबिक, इमरान खान ने इस हार को राज्य उपहार भंडार में न भेजकर पूर्व विशेष सहायक जुल्फिकार बुखारी को दिया था. बुखारी ने इस हार को लाहौर के एक जौहरी को बेच दिया था. रिपोर्ट में ये भी कहा गया है कि सार्वजनिक उपहारों को आधी कीमत देकर निजी कोठरी में रखा जा सकता है, लेकिन इमरान खान ने राष्ट्रीय खजाने में कुछ लाख रुपये जमा किए, जो कि अवैध था.

पहले भी लग चुके हैं आरोप

बता दें कि इमरान खान पर लगातार कई आरोप लग रहे हैं. कुछ दिन पहले विपक्ष ने सवाल उठाते हुए बताया था कि  इमरान खान की सरकार बनने के बाद पहले तीन वर्षों के अंदर उनकी पत्नी बुशरा बीबी की सहेली फरहत शहजादी की संपत्ति तेजी से बढ़ती गई. वर्ष 2017 में शहजादी की कुल घोषित संपत्ति 231 मिलियन रुपये थी, जो 2021 में बढ़कर 971 मिलियन रुपये हो गई. 2018 में उनकी फाइलिंग शून्य थी. फरहत शहजादी फराह गुर्जर या फराह खान के नाम से भी जानी जाती हैं. वह बुशरा बीबी की सबसे करीबी दोस्तों में शामिल हैं. वह बुशरा के लिए कितनी खास हैं इसका अंदाजा इसी लगाया जा सकता है कि इमरान खान और बुशरा के निकाह की रिसेप्शन पार्टी फराह के घर पर हुई.

ये भी पढ़ें

भारत की सॉफ्टवेयर कंपनी इंफोसिस ने रूस में समेटा अपना कारोबार, जानिए क्यों कंपनी ने लिया ये फैसला

लाहौर हाईकोर्ट का आदेश, 16 अप्रैल तक कराएं पंजाब के मुख्यमंत्री का चुनाव

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.