August 17, 2022
ब्रिटेन के पीएम बोरिस जॉन्सन ने की जेलेंस्की से फोन पर बात, कहा- 'आगे भी मिलती रहेगी हर मदद'

[ad_1]

रूस से युद्ध में अमेरिका के बाद अगर कोई देश यूक्रेन का साथ दे रहा है तो वह ब्रिटेन है. ब्रिटेन यूक्रेन की हरसंभव मदद कर रहा है. ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉन्सन ने शनिवार रात यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमिर जेलेंस्की से बातचीत की. दोनों की बातचीत मारियुपोल की स्थिति पर केंद्रीत रही. बातचीत के दौरान बोरिस जॉन्सन ने उन नए प्रतिबंधों के बारे में भी बताया, जो ब्रिटेन ने रूस पर हाल ही में लगाए हैं.

एक हफ्ते पहले कीव पहुंचे थे जॉन्सन 

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री ने यूक्रेनी राष्ट्रपति जेलेंस्की को यह भरोसा भी दिलाया कि ब्रिटेन आगे भी आर्म्ड वीइकल्स के अलावा अन्य हथियार यूक्रेन को उसकी रक्षा के लिए देता रहेगा. जॉनसन और जेलेंस्की के बीच फोन पर हुई बातचीत का विवरण उस समय आया है, जब 1 दिन पहले ही रूस ने ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन के रूस में प्रतिबंध करने पर रोक लगा दी है. रूस ने ब्रिटेन के रुख को शत्रुपूर्ण माना है. बता दें कि एक हफ्ते पहले ही बोरिस जॉनसन कीव पहुंचे थे और वहां युद्ध क्षेत्र का जायजा भी लिया था. उन्होंने इस युद्ध में यूक्रेनी सेना के जज्बे को सलाम भी किया था.

ब्रिटेन लगातार कर रहा है मदद

बता दें कि जब से युद्ध शुरू हुआ है तब से ही ब्रिटेन ने यूक्रेन की मदद की है. वह लगातार हथियार उपलब्ध करा रहा है. पिछले दिनों यूक्रेनी सेना को मास्टिफ आर्मर्ड व्हीकल दिए जाने की घोषणा भी ब्रिटेन ने की थी. इस एक व्हीकल का वजन 23 टन है. इसमें 8 सैनिक और 2 चालक आ सकते हैं. इस मदद से यूक्रेनी सैनिक रूसी सैनिकों के खिलाफ आक्रमक तरीके से लड़ सकेंगे. इस वाहन को अफगानिस्तान संघर्ष के दौरान इम्प्रोवाइज्ड एक्सप्लोसिव डिवाइसेस (IEDs) का सामना करने के लिए डिज़ाइन किया गया था. इसके अलावा ब्रिटेन पहले ही यूक्रेन को स्टारस्ट्रेक एंटी-एयरक्राफ्ट मिसाइल, 800 एंटी-टैंक मिसाइल, हेलमेट और नाइट विजन गॉगल्स भी यूक्रेन भेजने का ऐलान कर चुका है.

ये भी पढ़ें

सऊदी अरब के प्रिंस सलमान ने पाकिस्तान के नए पीएम को दिया रियाद आने का न्योता, शाहबाज शरीफ ने दी ये प्रतिक्रिया

North Korea: बाज नहीं आ रहा है तानाशाह किम जोंग उन, परमाणु क्षमताओं को बढ़ाने के लिए अब उठाया ये बड़ा कदम

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.