August 17, 2022
मुंबई इंडियंस क्या दोहराएगी 2015 वाला करिश्मा? चेन्नई के पास भी अब अंतिम 'मौका'

[ad_1]

नई दिल्ली. मुंबई इंडियंस की हालत देखकर यह समझ पाना मुश्किल है कि भारतीय टीम की कप्तानी करते हुए, आईपीएल मे अपनी टीम को लीड करने के मामले मे कप्तानों को ग्रहण क्यों लग जाता है? हैरत की बात है, विराट कोहली ने टीम इंडिया को कई बार कामयाबी दिलाई, लेकिन वह रॉयल चलेंजर्स बेंगलोर को कभी आईपीएल मे खिताब न दिलवा सके. अब विराट, कप्तानी के पचड़े से अलग हैं और आरसीबी पॉइंट्स टेबल मे ठीक-ठाक जगह पर काबिज है. आईपीएल मे रोहित शर्मा से बड़ा कप्तान और कौन हो सकता है, कप्तानी में 5 खिताब उनके नाम हैं, लेकिन टीम इंडिया की कप्तानी क्या संभाली, खिताब तो दूर एकलौता मैच जीतने के भी लाले पड़ गए.

टॉप रैंकिंग वाली टीमें आखिरी पायदान पर 

आईपीएल 2022 का फॉर्मेट बदला है और लंबे समय के बाद दस टीमें शिरकत कर रही हैं. इससे पहले 2011 का सीजन भी इसी फॉर्मेट के साथ खेला गया था. इस बार 5-5 टीमों के दो पूल बने, और आईपीएल मे अब तक के शानदार इतिहास को देखते हुए एक मे मुंबई इंडियंस को और एक में चेन्नई सुपर किंग्स को टॉप रैंकिंग दी गई. मजे की बात यह कि यह दोनों टीमें फिलहाल मौजूदा पॉइंट्स टेबल मे सबसे नीचे हैं, और टॉप पर वह दो टीमें हैं, जो बिल्कुल नई हैं और जाहिर है उन्हे रैंकिंग के मामले मे भी सबसे नीचे रखा गया था.

प्लेऑफ से बाहर होने के कगार पर मुंबई और चेन्नई

एक के बाद एक हार ने मुंबई और चेन्नई को उस जगह ला खड़ा किया है जहां इस बार दोनों ही प्लेऑफ की दौड़ से बाहर दिखाई देते हैं. अगले दौर मे पहुंचने के लिए इन्हे मुश्किल को आसान नहीं बल्कि तकरीबन असंभव को संभव मे तब्दील करना होगा. दोनों एक-दूसरे से जल्दी ही भिड़ने वाले हैं, लेकिन यह मुकाबला टॉप पर पहुंचने के लिए नहीं, बल्कि बॉटम पर न जाने के लिए होगा. चेन्नई के हिस्से मे तो एक जीत आ भी चुकी है, लेकिन मुंबई का खाता खाली है. आम तौर पर इससे पहले के संस्करण मे सात मैच जीतकर भी टीमे प्लेऑफ मे पहुंची हैं, इस बार सभी को 14-14 मैच ही खेलने होंगे, और मुंबई लगातार 6 और चेन्नई 5 मैच हार चुका है. यानी कुछ हैरतअंगेज होगा तभी दोनों की बात बनेगी.

mi1

मुंबई इंडियंस एक और हार बर्दाश्त नहीं कर सकती. (Mumbai Indians Instagram)

मुंबई के स्टार खिलाड़ी अब तक बेअसर

मुंबई ने अपना कोर रिटेन किया था. कप्तान रोहित शर्मा के साथ जसप्रीत बुमराह, सूर्यकुमार यादव और कायरन पोलार्ड की मौजूदगी भी कोई खास रंग नहीं दिखा रही है. टीम के लिए सूर्यकुमार यादव तो चल रहे है, चार मैचों मे 200 रन उनके खाते मे जमा हैं. ईशान किशन ने शुरुआत बेहतर की थी, पहली दो पारियों मे 81 और 54 रन बनाए लेकिन अब संघर्ष कर रहे है, 6 मैचों मे भी उनके 200 रन पूरे नहीं हुए हैं. कप्तान रोहित शर्मा ने अब तक सिर्फ 19 के औसत से रन बनाए हैं. रोहित ने अब तक 6 पारियों में 41,10, 03, 26, 28 और 6 रन बनाए हैं. तीन बार उन्हे ठीक-ठाक स्टार्ट मिला लेकिन उसे बडी पारी मे बदल नहीं सके.

suryakumar yadav ipl mumbai indians

सूर्यकुमार यादव ही फॉर्म में दिख रहे हैं. (PTI)

जसप्रीत बुमराह ने भी किया निराशकायरन पोलार्ड का 6 पारियों मे सर्वाधिक स्कोर पिछले मैच में 25 रहा है. गेंदबाजी में मुंबई को जसप्रीत बुमराह पर सबसे ज्यादा भरोसा था, लेकिन अब तक खेले गए 6 मैचों मे उनके खाते सिर्फ 4 विकेट आए हैं. यानी मुंबई को अपने जिस कोर पर नाज था, वह सिवाय सूर्य कुमार यादव के इस बार अब तक नहीं चल सका है. तिलक वर्मा के रूप मे टीम को जरूर 19 वर्ष का धाकड़ युवा सितारा मिला है, और उनके अलावा दक्षिण अफ्रीका के 18 वर्षीय डेवाल्ड ब्रेविस भी लगातार बेहतर कर रहे है. ब्रेविस ने पिछले साल अंडर-19 वर्ल्ड कप मे सिर्फ 6 मैचों मे 506 रन बनाए थे.

Jofra Archer Mumbai Indians

जोफ्रा आर्चर आईपीएल के इस पूरे सीजन का हिस्सा नहीं हैं जिन्हें मुंबई ने 8 करोड़ में खरीदा था. (AFP)

जोफ्रा आर्चर की गैर मौजूदगी से टीम पर पड़ा असर

अनफिट जोफ्रा आर्चर की गैर मौजूदगी भी मुंबई इंडियंस के घावों को लगातार हरा कर रही है. फिर इस बार टीम के पास पंड्या बंधु, राहुल चाहर, क्विंटन डीकॉक और ट्रेंट बोल्ट भी मौजूद नहीं है, इनकी निरन्तरता टीम को मजबूत बनाए रखती थी. हैरत यह कि सबसे ज्यादा विकेट लेने के मामले मे मुंबई का कोई गेंदबाज पहले 15 मे भी शामिल नहीं है. हालांकि 2015 मे भी मुंबई ने अपने पहले 6 मैचों मे से सिर्फ एक जीता था, लेकिन अंत मे उस सीजन का खिताब मुंबई के ही नाम था. क्या इस बार भी मुंबई ऐसा कर सकेगा. टीम जहां खड़ी है, अब उसके पास किसी भी मैच को गंवाने का कुशन लगभग समाप्त हो चला है.

चेन्नई सुपर किंग्स का जादू टूटता नजर आ रहा है. (CSK Instagram)

चेन्नई सुपर किंग्स पर भी मंडरा रहा है खतरा

उधर चार बार खिताब जीत चुकी चेन्नई सुपर किंग्स पर संकट के बादल मंडरा रहे है, लेकिन पिछले मैच मे आरसीबी को हराकर उसने अपनी ऑक्सीजन बनाए रखी है. शिवम दुबे और रॉबिन उथप्पा ने उस मैच मे यादगार बल्लेबाजी की. शुभम ने 46 गेंद पर 95 रन बनाए जबकि रॉबिन उथप्पा ने 50 गेंदों पर 88 रन की आक्रामक पारी खेली. दोनों के बीच तीसरे विकेट के लिए 165 रन की साझेदारी हुई, और इसी साझेदारी ने चेस करते हुए आरसीबी पर दबाव कायम किया. हैरत यह की इन दोनों के अलावा चेन्नई मे अब तक एक भी बल्लेबाज नहीं है जिसने कुल 100 का भी योग पूरा किया हो. गेंदबाजी मे भी भले ही ब्रावो के नाम सात विकेट हों लेकिन उनकी इकॉनामी 9 को छू रही है. ऐसे में आरसीबी पर जीत के बावजूद चेन्नई का संतुलन ठीक नहीं लगता. दुबे और उथप्पा की साझेदारी महज एक तुक्का नहीं थी, यह साबित करने के लिए चेन्नई को बाकी मैचों मे भी बेहतर करना होगा.

गुजरात-लखनऊ ने दिखाया दमऔर अब अंत मे उन दो टीमों की चर्चा, जो लीग शुरू होने से पहले भले ही रैंकिंग के मामले मे सबसे नीचे हो, लेकिन लीग दौर का तकरीबन आधा सफर खत्म होते दोनों सरे-फेहरिस्त हैं. गुजरात टाइटन्स और लखनऊ सुपर जायंट्स दोनों ने ही पिछले 5 मे से 4-4 मैच जीते है, दोनों के ही अब तक 8-8 अंक हैं, लेकिन गुजरात ने एक मैच कम खेला है इसलिए वह टॉप पर और लखनऊ दूसरे नंबर पर है.

IPL, IPL 2022, Matthew Hayden, Hardik Pandya, Gujarat Titans, Sunrisers Hyderabad, SRH vs GT, Cricket news, cricket news in hindi, आईपीएल, आईपीएल 2022, सनराइजर्स हैदराबाद, गुजरात टाइटंस

हार्दिक पंड्या की टीम गुजरात टाइटन्स आईपीएल अंकतालिका में शीर्ष पर है. (PTI)

लखनऊ ने जिस अंदाज से कल मुंबई को रौंदा, वह काबिलेतारीफ है. कप्तान लोकेश राहुल के बेजोड़ शतक ने मुंबई को उनकी बल्लेबाजी शुरू होने से पहले ही निराश कर दिया था. इस टीम मे लोकेश राहुल के अलावा क्विंटन डिकॉक भी 200 का आंकड़ा पार कर चुके है. लीग मे सबसे अधिक रन बनाने के मामले मे 235 रन के साथ लोकेश राहुल दूसरे नंबर पर और डिकॉक 212 रन के साथ चौथे नंबर पर हैं. गेंदबाजी मे आवेश खान ने सचमुच असर डाला है. आवेश अब तक 11 विकेट समेट चुके हैं. आवेश से आगे सिर्फ रॉयल्स के युजवेन्द्र चहल हैं, जिनके नाम लीग मे अब तक सर्वाधिक 12 विकेट हैं.

हार्दिक पंड्या खेल रहे हैं कप्तानी पारी

लखनऊ की तरह गुजरात टाइटन्स के भी दो बल्लेबाज अब तक 200 का आंकड़ा पार कर चुके है. कप्तान हार्दिक पंड्या ने पिछले मैच मे राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ 86 नाबाद की मदद से अब तक 5 पारियों मे दो बार नॉट आउट रहते 232 रन जोड़े हैं. शुभमन गिल अब तक बहुत बेहतर नहीं कर पा रहे थे, लेकिन पंजाब किंग्स के खिलाफ 96 रन की पारी ने उनके मिदास टच को बखूबी उभार दिया है. हालांकि इसके बाद खेले गए दोनों मैचों मे शुभमन कुछ खास नहीं कर सके. टीम के गेंदबाजी आक्रमण मे ठीक-ठाक पैनापन है. लॉकी फर्गुसन, मोहम्मद शमी, और राशिद खान तीनों न सिर्फ रन गति पर नियंत्रण रखने मे कामयाब दिखाई देते हैं, बल्कि लगातार विकेट्स मे भी बने हुए हैं. राशिद खान ने तो पंजाब किंग्स के खिलाफ सिर्फ 22 रन देकर 3 विकेट निकाले थे. हालाकि राशिद से अपेक्षाएं अनंत है, उम्मीद है कि आने वाले मैचों मे वे और बेहतर दिखाई देंगे.

आईपीएल 2022 में हार्दिक पंड्या जलवा बिखेर रहे हैं. (PTI)

चेन्नई के लिए गुजरात के खिलाफ जीत बेहद जरूरी

आज रविवार डबल हेडर मे शाम के मुकाबले पर सभी की निगाहे होंगी, जहां चेन्नई सुपर किंग्स अपनी उम्मीदों की लौ को जलाए रखने के इरादे से टॉप पर मौजूद, गुजरात टाइटंस के खिलाफ उतरेगी. जाहिर है, इस मैच से चेन्नई की इस सीजन दशा और दिशा का अंदाज हो जाएगा. दोपहर खेले जाने वाले मुकाबले मे पांचवे नंबर पर चल रहे पंजाब किंग्स सातवे नंबर पर मौजूद सनराइजर्स हैदराबाद के विरुद्ध खेलेगी. हैदराबाद का प्रदर्शन इस बार पिछले कुछ सीजन की तुलना मे अब तक बेहतर रहा है.

(डिस्क्लेमर: ये लेखक के निजी विचार हैं. लेख में दी गई किसी भी जानकारी की सत्यता/सटीकता के प्रति लेखक स्वयं जवाबदेह है. इसके लिए News18Hindi किसी भी तरह से उत्तरदायी नहीं है)



[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.