August 9, 2022
यूक्रेनी सेना का दावा- पुल को उड़ाकर रूसी काफिले को किया तबाह

[ad_1]

Russia Ukraine war:  यूक्रेनी सेना ने गुरुवार को दावा किया कि उन्होंने खार्किव में एक पुल को तबाह कर दिया है, जिससे रूसी सेना का काफिला नष्ट हो गया. यह दावा यूक्रेन के सशस्त्र बलों के जनरल स्टाफ ने फेसबुक पर किया था.

पोस्ट में कहा गया है कि रूसी टाइगर, कामाज़ और यूराल सैन्य वाहन काफिले में यात्रा कर रहे थे जब पुल तबाह हो गया. यूक्रेनी सशस्त्र बलों ने पोस्ट में कहा, “विस्फोटक को एक विशिष्ट स्थान पर रखकर, विशेष अभियान बलों के ऑपरेटरों ने दुश्मन की प्रतीक्षा की, जो बिना किसी संदेह के मौत की ओर बढ़ रहा था.”

 

यह हमला पूर्वी यूक्रेन के इज़ियम शहर के पास हुआ. फेसबुक पोस्ट में नष्ट हुए पुल की तस्वीरें भी हैं, यूक्रेनी सेना ने कहा कि तस्वीरों को उनके ड्रोन द्वारा लिया गया है.

रूस ने हाल के सप्ताहों में यूक्रेनी बलों द्वारा सीमावर्ती क्षेत्रों पर हमलों की एक श्रृंखला की सूचना दी है, जिसमें इस महीने की शुरुआत में बेलगोरोड शहर में एक ईंधन डिपो पर हमला भी शामिल है.

UN की चार समितियों के लिए हुए चुनाव में हारा रूस

इस बीच संयुक्त राष्ट्र की चार समितियों के लिए हुए चुनाव में रूस को हार का सामना करना पड़ा है. इसे यूक्रेन के खिलाफ युद्ध को लेकर मॉस्को के वैश्विक स्तर पर अलग-थलग पड़ने के संकेत के तौर पर देखा जा रहा है. संयुक्त राष्ट्र आर्थिक एवं सामाजिक परिषद (ईसीओएसओसी) के सहायक और संबद्ध निकायों में विभिन्न रिक्तियों को भरने के लिए बुधवार को चुनाव हुए.

रूस गैर-सरकारी संगठनों की समिति, संयुक्त राष्ट्र महिला कार्यकारी बोर्ड, संयुक्त राष्ट्र बाल कोष (यूनिसेफ) कार्यकारी बोर्ड और स्वदेशी मुद्दों पर स्थायी मंच के लिए हुए चुनावों में किस्मत आजमा रहा था.

संयुक्त राष्ट्र में ब्रिटेन के मिशन ने ट्वीट किया, ‘‘रूस ने आज संयुक्त राष्ट्र की चार समितियों के लिए चुनाव लड़ा था और सभी में उसे हार का सामना करना पड़ा. संयुक्त राष्ट्र के सदस्य देश रूस को अलग-थलग कर रहे हैं. वे यूक्रेन के साथ खड़े हैं.’’

गौरतलब है कि रूस ने फरवरी में यूक्रेन पर बिना किसी उकसावे के आक्रमण कर दिया था.

यह भी पढ़ें:

‘पाकिस्तान में अब कभी नहीं लगेगा सैन्य शासन’, PAK सेना का बड़ा दावा, इमरान पर भी साधा निशाना

रामनवमी हिंसा: कनाडा के नेता जगमीत सिंह ने कहा- मुस्लिम विरोधी भवनाओं को रोके मोदी सरकार

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.