August 15, 2022
रूस का दावा- यूक्रेन पर रात भर किए बड़े पैमाने पर हमले, सैंकड़ों ठिकानों को बनाया निशाना

[ad_1]

Russia Ukraine War: रूस ने सोमवार को कहा कि उसने यूक्रेन में सैकड़ों ठिकानों को निशाना बनाने के लिए अपनी वायु सेना, मिसाइल बलों, तोपखाने और एयर डिफेंस सिस्टम का उपयोग करते हुए यूक्रेनी सेना और उससे जुड़े सैन्य ठिकानों पर रात भर बड़े पैमाने पर हमले किए.

रॉयटर्स के मुताबिक रूसी रक्षा मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि हवाई मिसाइलों ने रात भर में 16 यूक्रेनी मिलिट्री फैसिलिटी को नष्ट कर दिया था, जिसमें पांच कमांड पोस्ट, एक ईंधन डिपो और तीन गोला बारूद के गोदाम, साथ ही यूक्रेनी कवच और बल शामिल थे.

इन क्षेत्रों में किए हमले
रूस ने कहा कि ये हमले खारकीव, ज़ापोरिज्जिया, डोनेट्स्क, निप्रॉपेट्रोस क्षेत्रों और मायकोलायिव के बंदरगाह में हुए. रूसी वायु सेना ने उन 108 क्षेत्रों में हमले शुरू किए जहां कि यूक्रेनी सेना और कवच (armour) केंद्रित थे.

अन्य क्षेत्रों में, रक्षा मंत्रालय ने 12 यूक्रेनी स्ट्राइक ड्रोन और टैंकों को नष्ट करने और लुहान्स्क, विन्नीशिया और डोनेट्स्क क्षेत्रों में चार हथियारों और उपकरण डिपो को नष्ट करने के लिए इस्कंदर मिसाइलों का उपयोग करने की बात कही.

रूसी तोपखाने ने 315 ठिकानों पर दागे गोले
रक्षा मंत्रालय ने कहा कि रूसी तोपखाने ने रात भर में 315 यूक्रेनी सैन्य ठिकानों पर हमला किया था और हवाई रक्षा प्रणालियों का इस्तेमाल तीन यूक्रेनी सेना के हेलीकॉप्टर, दो मिग -29 लड़ाकू और एक एसयू -25 विमान को नीचे लाने के लिए किया गया था.

रूस की तरफ से युद्ध में उतर सकते हैं सीरियाई लड़ाके
इस बीच ऐसी कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया गया है कि यूक्रेन में लड़ रहे रूसी सैनिकों की मदद के लिए कुछ सीरियाई लड़ाके भी इस युद्ध में शामिल होने की योजना बना रहे हैं. विश्लेषकों का कहना है कि रूस पूर्वी यूक्रेन में बड़े पैमाने पर हमले के साथ युद्ध के अगले चरण की तैयारी कर रहा है. उनका मानना है कि आगामी कुछ सप्ताहों में सीरियाई लड़ाकों को तैनात किया जा सकता है.

दरअसल रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने 2017 में सीरिया की अपनी यात्रा के दौरान सीरियाई सेना के एक जनरल की प्रशंसा करते हुए कहा था कि भविष्य में सीरिया और रूसी सेना के सहयोग से बड़े उद्देश्यों को पूरा किया जा सकता है. सीरियाई सेना के इस जनरल ने देश में लंबे समय से चल रहे गृहयुद्ध में विद्रोहियों को हराने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी. 

पुतिन का वह बयान अब सही साबित होता दिखाई दे रहा है और ब्रिगेडियर जनरल सुहेल अल-हसन की टुकड़ी के सैकड़ों सीरियाई लड़ाके रूसी सैनिकों की ओर से यूक्रेन में कथित तौर पर लड़ने के लिए तैयार हैं.

यह भी पढ़ें: 

चीन में लॉकडाउन को लेकर बढ़ा गुस्सा तो कम्युनिस्ट पार्टी ने की लोगों से अपील- शी जिनपिंग का करें समर्थन

रूस-यूक्रेन युद्ध के अगले चरण में रूस की तरफ से शामिल होने को तैयार हैं सीरियाई लड़ाके

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.