August 12, 2022
रूस पर नरम होने को तैयार अमेरिका! कहा- अगर व्यवहार बदलता है तो हटा सकते हैं प्रतिबंध

[ad_1]

इस सप्ताह वाशिंगटन में होने वाली एक बड़ी आर्थिक बैठक से पहले अमेरिकी ट्रेजरी के एक अधिकारी ने कहा कि अगर मॉस्को अपने व्यवहार में बदलाव लाता है तो यूक्रेन पर सैन्य हमला करने को लेकर रूस पर अमेरिका द्वारा लगाए गए प्रतिबंधों को वापस लिया जा सकता है. स्पुतनिक की रिपोर्ट के अनुसार, सोमवार (स्थानीय समय) पर पीटरसन इंस्टीट्यूट फॉर इंटरनेशनल इकोनॉमिक्स द्वारा आयोजित एक वर्चुअल डिस्कशन में अमेरिकी उप ट्रेजरी सचिव वैली एडेमो ने यह बात कही.

वैली एडेमो ने कहा, “हम हमेशा यह सुनिश्चित करना चाहते हैं कि हमारे द्वारा लगाए गए किसी भी प्रतिबंध को किसी बिंदु पर वापस लिया जा सके, अगर व्यवहार में परिवर्तन होता है तो.” उन्होंने कहा कि ‘प्रतिबंध लगाने के बाद लक्ष्य अंततः व्यवहार परिवर्तन है.’ बता दें कि जी20 के वित्त प्रमुख और केंद्रीय बैंकर इंडोनेशिया की अध्यक्षता में वाशिंगटन में मिलने वाले हैं. इस बैठक से पहले अमेरिकी उप ट्रेजरी की ओर से यह बयान आया है.

रूस के खिलाफ पश्चिमी देशों के लगाए गए प्रतिबंध नाकाम रहे: पुतिन
वहीं, दूसरी ओर रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने सोमवार को कहा है कि रूस के खिलाफ पश्चिमी देशों के लगाए गए प्रतिबंध नाकाम साबित हुए हैं. पुतिन ने कहा कि पश्चिमी देशों को ‘‘वित्तीय-आर्थिक स्थिति तबाह होने, बाजार में दहशत फैलने, बैंकिंग प्रणाली के ध्वस्त होने और दुकानों में सामानों की कमी हो जाने की उम्मीद थी.’’ उन्होंने कहा कि ‘‘आर्थिक हमले की रणनीति विफल हो गई है.’’

पुतिन ने शीर्ष आर्थिक अधिकारियों के साथ एक वीडियो कॉल के दौरान यह टिप्पणी की. उन्होंने कहा कि ‘‘रूस ने अभूतपूर्व दबाव का सामना किया है’’ और तर्क दिया कि रूबल मजबूत हुआ है तथा देश ने वर्ष की पहली तिमाही में 58 अरब डॉलर का ऐतिहासिक उच्च व्यापार अधिशेष दर्ज किया है.

यह भी पढ़ें-

पाकिस्तान: श्रीलंकाई नागरिक की पीट-पीटकर हत्या के मामले में 89 लोग दोषी करार, 6 को मृत्युदंड, सात को उम्रकैद की सजा

Pakistan: सरदार तनवीर इलियास बने पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर के प्रधानमंत्री

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.