August 13, 2022
शहबाज शरीफ आज बनेंगे पाकिस्तान के प्रधानमंत्री, JNU में खाने को लेकर बवाल, पढ़ें अबतक के अपडेट्

[ad_1]

पाकिस्तान में इमरान खान की सरकार सत्ता से हट चुकी है. नेशनल असेंबली में अविश्वास प्रस्ताव में हार का सामना करने के बाद इमरान खान पीएम पद से हट चुके हैं. पूर्व पीएम नवाज शरीफ के भाई शहबाज शरीफ पाकिस्तान के नए प्रधानमंत्री होंगे. PML(N) के अध्यक्ष शहबाज शरीफ को पीपीपी जैसी पार्टियों का समर्थन हासिल है. 

शाहबाज शरीफ का राजनीतिक सफर…

– 70 साल के शहबाज शरीफ पाकिस्तान मुस्लिम लीग नवाज के सांसद हैं 
– और पाकिस्तान के पूर्व पीएम नवाज शरीफ के छोटे भाई हैं.
– वो 2018 से नेशनल असेंबली के सदस्य हैं और विपक्ष के नेता हैं.
– शहबाज शरीफ 2018 के चुनावों में PM पद के उम्मीदवार भी थे. 
– 1980 के दशक में राजनीति में कदम रखने वाले शरीफ ने 1988 में पहला चुनाव जीता था. 
– 1997 में वह पहली बार मुख्यमंत्री बने, इसके बाद 2008 और 2013 में भी वह पंजाब के मुख्यमंत्री रहे.
– उनके भाई नवाज शरीफ को पद से अयोग्य घोषित किए जाने के बाद उन्हें पीएमएल-एन का अध्यक्ष बनाया गया था. 

JNU में विवाद 

उधर JNU  में विवाद हो गया है. जेएनयू में छात्रों के दो गुटों के बीच खाने को लेकर विवाद हो गया. इस विवाद में एबीवीपी और लेफ्ट के छात्र एक दूसरे के आमने सामने आ गए और दोनों के बीच मारपीट भी हुई. एबीवीपी संगठन के छात्रों का कहना है कि लेफ्ट के छात्रों को रामनवमी का प्रोग्राम देखा नहीं गया और रामनवमी और इफ्तार पार्टी का समन्वय बिगाड़ने के लिए वामपंथियों ने हमला किया. वहीं दूसरी ओर लेफ्ट छात्रों का कहना है कि एबीवीपी की डिमांड थी कि मेस में सिर्फ वेज खाना बने और इसीलिए पत्थर चलाया गया जिससे मेस का शीशा टूट गया, छात्र घायल हो गए. 

ये भी पढ़ें- पाकिस्तान का नया पीएम बनने के बाद शाहबाज शरीफ के लिए आसान नहीं है राह, सामने रहेंगी ये 5 बड़ी चुनौतियां

Explainer: JNU विवाद मामले में FIR दर्ज, जानें क्या है पूरा मामला, क्यों आमने-सामने आए ABVP और लेफ्ट के छात्र

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.