August 12, 2022
श्रीलंका में ईंधन कटौती का एलान, अब इतने रुपए का ही खरीद सकेंगे पेट्रोल-डीजल

[ad_1]

<p style="text-align: justify;">श्रीलंका में गंभीर आर्थिक संकट बरकरार है. धीरे-धीरे देश में हालात और बिगड़ते जा रहे हैं. महंगाई और बिजली कटौती की समस्या से लोग जूझ रहे हैं. वहीं पेट्रोल और डीजल की भारी किल्लत है. ईंधन की कमी की वजह से काफी परेशानियों का सामना पहले से ही करना पड़ रहा है. इस बीच श्रीलंका की सरकार ने ईंधन प्रतिबंध का ऐलान कर दिया है. अलग-अलग गाड़ियों के लिए कैटेगरी बनाई गई है कि वो अधिकतम कितनी राशि तक अपनी गाड़ी में तेल भरवा सकते हैं. सीलोन पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन (सीपीसी) ने तत्काल प्रभाव से हल्के वाहनों के लिए ईंधन भरवाने की सीमा बनाते हुए फ्यूल पर प्रतिबंध लगा दिया है.</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>श्रीलंका में ईंधन का संकट और गहराया</strong></p>
<p style="text-align: justify;">गंभीर आर्थिक संकट से जूझ रहे श्रीलंका में अब ईंधन का संकट और गहरा गया है. अब श्रीलंकाई नागरिक एक बार में दोपहिया वाहनों में सिर्फ 1,000 रुपये तक का ही ईंधन डलवा सकते हैं. वही तिपहिया वाहनों के लिए तेल भरवाने की सीमा 1,500 रुपये तक रखी गई है यानि को तिपहिया वाहन एक बार में 1500 रुपये का ही फ्यूल ले सकते हैं. इसके अलावा चार पहिया वाली गाड़ियों के लिए ये सीमा 5000 रुपये रखी गई है यानि चार पहिया वाहन अब पांच हजार तक का ही ईंधन भरा सकेंगे. सरकारी कंपनी सिलोन पेट्रोलियम कॉरपोरेशन (सीपीसी) ने बयान जारी कर यह ईंधन राशनिंग लागू की है. हालांकि, बस, लॉरी और वाणिज्यिक वाहनों को इस व्यवस्था से बाहर रखा गया है.</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>श्रीलंका में अब इतने रुपये का ही खरीद सकेंगे पेट्रोल-डीजल</strong></p>
<p style="text-align: justify;">बाइक&nbsp; &nbsp; &nbsp; &nbsp; &nbsp; &nbsp; &nbsp; &nbsp;- &nbsp;1000 रुपये</p>
<p style="text-align: justify;">तिपहिया&nbsp; &nbsp; &nbsp; &nbsp; &nbsp; &nbsp;- &nbsp;1500 रुपये</p>
<p style="text-align: justify;">कार/वैन/जीप &nbsp; &nbsp;- &nbsp;5000 रुपये</p>
<p style="text-align: justify;">बसों और ट्रकों जैसे भारी वाहनों पर फिलहाल कोई सीमा लागू नहीं</p>
<p style="text-align: justify;">गौरतलब है आजादी के बाद से श्रीलंका बेहद ही गंभीर आर्थिक संकट के दौर से गुजर रहा है. देश में बिजली संकट के साथ साथ पेट्रोल और डीजल की भारी किल्लत है. पेट्रोल पंपों पर लंबी-लंबी कतारों से लोगों में काफी नाराजगी है. विरोध- प्रदर्शन लगातार जारी है. श्रीलंकाई रुपये का मूल्य कम होने की वजह से जरुरी वस्तुओं की भारी कमी देखी जा रही है.</p>
<p style="text-align: justify;">वहीं रोजाना इस्तेमाल होने वाले चीजों के दाम आसमान पर हैं. कोलंबो के गाले फेस में लगातार लोग सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं. प्रदर्शनकारी राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे से इस्तीफे की मांग कर रहे हैं. वहीं कुछ लोग देश में ऐसे हालात बनाने के लिए उन्हें जेल भेजने की भी मांग कर रहे हैं.</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>ये भी पढ़ें:</strong></p>
<p style="text-align: justify;"><strong><a title="यूक्रेन ने डुबोया रूसी वॉरशिप ‘Moskva’, अमेरिका के बयान के बाद भड़का रूस" href="https://www.abplive.com/news/world/ukraine-sinks-russian-warship-moskva-russia-flares-up-after-us-statement-2103292" target="">यूक्रेन ने डुबोया रूसी वॉरशिप ‘Moskva’, अमेरिका के बयान के बाद भड़का रूस</a></strong></p>
<p style="text-align: justify;"><strong><a title="पाकिस्तानी सरकार गिराने के आरोप का अमेरिका ने किया खंडन, कहा- देश के साथ संबंध ‘महत्वपूर्ण’" href="https://www.abplive.com/news/world/america-denies-allegation-of-toppling-pakistani-government-2103134" target="">पाकिस्तानी सरकार गिराने के आरोप का अमेरिका ने किया खंडन, कहा- देश के साथ संबंध ‘महत्वपूर्ण'</a></strong></p>
<p style="text-align: justify;">&nbsp;</p>
<p style="text-align: justify;">&nbsp;</p>

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.