August 12, 2022
PODCAST: आईपीएल में जीत की हैट्रिक से चूके केकेआर, रन रेट बिगाड़ सकता है कई टीमों का खेल - cricket podcast ipl 2022 county championship icc ck naidu trophy under 25 tournament suno dil se nodakm

[ad_1]

अब तक के प्रदर्शन से कुछ खिलाड़ी तेजी से भारतीय क्रिकेट पर अपनी छाप छोड़ते दिखाई दे रहे हैं. इनमें से अधिकतर की उम्र 22 साल या उससे नीचे है, यानी उनकी क्रिकेट की अभी शुरुआत ही हुई है, और इन्हे लंबा सफर तय करना है. मुंबई इंडियंस भले ही अपने पांचों मैचों में हार गई हो, लेकिन इस टीम के तिलक वर्मा ने अपने प्रदर्शन से सबका ध्यान खींचा है.


प्ताह भर की क्रिकेट गतिविधियों के साथ इस पॉडकास्ट में मैं हूँ संजय बैनर्जी- सुनो दिल से-

आईपीएल में दो सबसे बड़ी टीमों के लिए अब प्लेऑफ आसान नहीं लगता. मुंबई ने जहां लगातार पांच मैचों में शिकस्त का सामना किया है, वहीं चेन्नई ने लगातार चार हार के बाद जीत का खाता खोला है. तीसरे सप्ताह में प्रवेश कर चुकी इंडियन प्रीमियर लीग में अब कोई ऐसी टीम नहीं बची है, जिसने शिकस्त न झेली हो. ऐसे में फिलहाल प्‍लेऑफ में पहुंचने वाली टीमों की तस्वीर अब भी धुंधली है. दिल्ली कैपिटल्स और संनराइजर्स हैदराबाद के अलावा बाकी सभी टीमें अब तक पाँच-पाँच मैच खेल चुकी हैं, और गुजरात जाएंट्स आठ पॉइंट्स लेकर टॉप पर काबिज है. कल रात रॉयल्स को धूल चटाने में कप्तान हार्दिक पण्ड्या के 52 गेंदों पर 87 रन की तूफ़ानी पारी ने बड़ी भूमिका निभाई और रॉयल्स को पीछे छोड़ कर खुद टॉप पर जा बैठे. उसके बाद 5 टीमों के 6-6 पॉइंट्स हैं, लेकिन रन रेट में फरक की वजह से वह दूसरे से छटवें स्थान पर बनी हुई हैं. दिलचस्प यह की डिफ़ेनडिंग चैंपियन चेन्नई सुपर किंग्स दस टीमों की इस लीग में अभी नौवें और सबसे ज्यादा पाँच बार खिताब जीत चुकी मुंबई इंडियंस आखिरी पायदान पर हैं.

आज कोलकाता नाइट राइडर्स और सनराइजर्स हैदराबाद के बीच मुकाबला होना है. कोलकाता की टीम पांच में से तीन मैच जीतकर टॉप के इर्द गिर्द घूम रही है. पिछले मैच में हार के कारण केकेआर अपनी जीत की हैट्रिक पूरी नहीं कर सकी थी. जबकि हैदराबाद ने पहले दो मैचों में हार के बाद लगातार दो मैच जीते हैं, जिससे उसके लिए आज जीत की हैट्रिक जमाने का शानदार मौका है.

अब तक के प्रदर्शन से कुछ खिलाड़ी तेजी से भारतीय क्रिकेट पर अपनी छाप छोड़ते दिखाई दे रहे हैं. इनमें से अधिकतर की उम्र 22 साल या उससे नीचे है, यानी उनकी क्रिकेट की अभी शुरुआत ही हुई है, और इन्हे लंबा सफर तय करना है. मुंबई इंडियंस भले ही अपने पांचों मैचों में हार गई हो, लेकिन इस टीम के तिलक वर्मा ने अपने प्रदर्शन से सबका ध्यान खींचा है. 19 साल के तिलक ने परसो भी पंजाब के खिलाफ 36 रन बनाए थे, लेकिन उससे पहले उन्होंने राजस्थान के खिलाफ 33 गेंदों पर 61 और कोलकाता के विरुद्ध 27 गेंदों पर 38 रन बनाए थे.

इसी तरह, लखनऊ सुपरजाइंट्स के 22 साल के आयुष बादोनी ने पहले ही मैच में 41 गेंदों पर 54 रन बनाकर खुद को भविष्य का सितारा होने का संकेत दिया था. बादोनी का नाम इसलिए भी चर्चा में है, क्योंकि कम गेंदों पर ज्यादा रन बनाने का उनका सिलसिला लगातार बढ़ता जा रहा है. रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरू के ओपनर अनुज रावत ने हालांकि ज्यादा रन नहीं बटोरे हैं, पर उन्होंने कप्तान फाफ डू प्लेसिस के साथ ओपनिंग में बढ़िया करने की कोशिश की है. मुंबई इंडियंस के खिलाफ अनुज ने 47 गेंदों पर 66 रन की पारी खेली थी, जिसमें छह छक्के शामिल थे.

इन सबके बीच बड़ा नाम उभरकर आ रहा है अभिषेक शर्मा का. 21 साल के अभिषेक ने तो पिछले दो मैचों में 75 और 42 रन की पारी खेलकर अपनी आक्रामक क्षमता का जलवा दिखाया है. देखा जाए तो गुजरात के विजय रथ को रोकने का काम अभिषेक शर्मा ने ही किया, जिन्होंने 32 गेंदों पर चार छक्कों की मदद से 42 रन बनाए थे. उससे पहले भी वह चेन्नई के खिलाफ 75 रन ठोक चुके थे.

दूसरी ओर, कुछ दिग्गज खिलाड़ियों का बल्ला भी अब बोलने लगा है. दिल्ली कैपिटल्स के पृथ्वी शॉ ने पिछले लगातार दो मैचों में अर्धशतक ठोका, डेविड वार्नर लगभग एक दशक बाद दिल्ली की ओर से खेल रहे हैं. पहले मैच में फ्लॉप रहने के बाद वार्नर ने भी आखिरकार अगले मैच में 61 रन की पारी खेली.

इस बार सबसे ज्यादा निराशा का सामना करना पड़ रहा है सूर्यकुमार यादव को. जिनका बल्ला तो चल रहा है, लेकिन उनकी टीम नहीं जीत रही है. पहले दो मैचों में अनफिट होने के कारण नहीं खेलने वाले सूर्यकुमार ने बाद के लगातार तीन मैचों में 52, 68 और 43 रन की पारियां खेलीं.

जिन कुछ बड़े नामों को अभी भी रन उगलने का इंतजार करना पड़ रहा है, उनमें रोहित शर्मा, विराट कोहली, लोकेश राहुल और ऋतुराज गायकवाड शामिल हैं. पिछले सत्र में ऋतुराज ने गजब की बल्लेबाजी की थी, लेकिन इस बार उनकी सूखी बल्लेबाजी का खामियाजा चेन्नई सुपर किंग्स को उठाना पड़ रहा है. उनका खराब फॉर्म किस तरह जा रहा है, यह उनके स्कोर 0, 1, 1, 16 और 17 से जाना जा सकता है.

पंजाब किंग्स के लिए पिछले मैच में शिखर धवन और कप्तान मयंक अग्रवाल ने अपना रंग जमाया और मुंबई पर जीत में जबर्दस्त कंट्रीब्यूट किया.

सिर्फ बल्लेबाज ही नहीं, अब तक कुछ गिने चुने गेंदबाजों ने भी प्रभावित किया है. अब तक आठ बार गेंदबाजों ने पारी में चार या ज्यादा विकेट लिए हैं, इनमें उमेंश यादव, आवेश खान, कुलदीप यादव और युजवेन्द्र चहल के अलावा वानिंदु हसरंगा, लॉकी फग्र्युसन, महीश थीकक्षाणा और ओडियन स्मिथ शामिल हैं.

आईपीएल में पिछली बार रविंद्रचन अश्विन ने मानकडिंग रन आउट की कोशिश से सुर्खियां बटोरी थीं, तो इस बार उन्होंने लखनऊ सुपरजाइंट्स के खिलाफ खुद को ‘रिटायर्ड आउट’ कर सबका ध्यान खींचा. आईपीएल में रिटायर्ड आउट होने का यह पहला मौका है, लेकिन इस तरह आउट होना भी रणनीति का हिस्सा बन सकता है.

पिछली चैंपियन चेन्नई सुपर किंग्स को आखिरकार अपने पांचवें मैच में जाकर जीत का स्वाद मिला. बेंगलुरू के खिलाफ मिली जीत के लिए रोबिन उथप्पा के 88 और शिवम दुबे के नाबाद 95 रन के अलावे थीकक्षाणा के 33 रन पर लिये गये चार विकेट की भूमिका अहम रही है.

उधर चेतेश्वर पुजारा ने आखिरकार काउंटी चैंपियनशिप में ससेक्स के लिए पदार्पण कर लिया. कल डर्बीशायर के खिलाफ शुरू हुए मैच में उनको अंतिम ग्यारह में रखा गया है. उम्मीद है कि आज पुजारा बल्लेबाजी करते नजर आ सकते हैं. पहले मैच में पुजारा वीजा में विलंब के कारण नहीं खेल सके थे.

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के चेयरमैन रमीज राजा के भारत, आस्ट्रेलिया, इंग्लैंड और पाकिस्तान के बीच चार देशों की प्रतियोगिता की प्रस्तावित योजना को आईसीसी ने नकार दिया है. हालांकि इसी तरह की एक योजना का प्रयास इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड भी कर रहा है, जिसे कुछ देशों का समर्थन हासिल है, लेकिन इसकी भी संभावना लगती नही है.

आईसीसी के वर्तमान अध्यक्ष ग्रेग र्बाक्ले अक्टूबर तक अपने पद पर बने रहेंगे. इस कारण फिलहाल इस पद पर किसी और के आने की अटकलें थम गई हैं. इस बीच बीसीसीआई के सचिव जय शाह को आईसीसी की क्रिकेट समिति में शामिल किया गया है.

और अंत में डोमेंस्टिक क्रिकेट. सीके नायडू ट्रॉफी अंडर-25 टूर्नामेंट के चारों क्वार्टर फाइनल मैचों का आज चौथा दिन है. इन मैचों में गुजरात का राजस्थान से, पंजाब का मध्य प्रदेश से, उत्तर प्रदेश का विदर्भ से और महाराष्ट्र का मुकाबला कर्नाटक से है. इसके अलावा प्लेट ग्रुप का चौथा और आखिरी राउंड आज समाप्त हो रहा है. इस बार प्लेट ग्रुप से किसी को भी नॉकआउट में प्रवेश का प्रावधान नहीं है. इसके बदले टॉप पर रहने वाली टीम अगले सत्र में एलिट ग्रुप में दाखिल हो जाएगी.

इससे पहले खेले गये तीन राउंड के मुकाबलों में शेख रशीद 560 और प्रियांश 479 रनों से शीर्ष पर थे. जबकि  योगेश शर्मा 27 और मनीषी 25 विकेट लेकर गेंदबाजी में आगे थे.

इसके अलावा अंडर 19 कूच बिहार ट्रॉफी के चारों क्वार्टर फाइनल मैच 18 अप्रैल से कोलकाता में शुरू होंगे. आपको याद होगा यह टूर्नामेंट ग्रुप चरण की समाप्ति के दौरान कोरोना के कुछ मामले पाये जाने के बाद दो महीने पहले स्थगित कर दिया गया था.

तो यह था, सप्ताह भर की क्रिकेट गतिविधियों पर आधारित पॉडकास्ट- सुनो दिल से. अगले हफ्ते तक संजय बैनर्जी को अनुमति दीजिए-नमस्कार



[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.