August 12, 2022
NDTV Gadgets 360 Hindi

[ad_1]

इंस्‍टेंट मैसेजिंग ऐप की बात आती है, तो जेहन में सबसे पहले नाम उभरता है वॉट्सऐप का। पॉपुलैरिटी के शिखर पर काबिज यह ऐप अपने यूजर्स के लिए नए-नए फीचर्स लाता रहता है। अभी हाल ही में हमने ‘कम्‍युनिटी’ फीचर और एकसाथ 32 लोगों के बीच वॉयस कॉल की सुविधा के बारे में पढ़ा था। ये फीचर जल्‍द लाइव हो जाएंगे। ताजा अपडेट यह है कि वॉट्सऐप एक और धमाकेदार फीचर पर काम कर रहा है। आने वाले दिनों में रे-बैन स्‍टोरीज (Ray-Ban Stories) स्‍मार्ट चश्‍मा इस्‍तेमाल करने वाले वॉट्सऐप यूजर्स बिना उंगलियां थकाए मैसेज भेज सकेंगे। आइए इस फीचर के बारे में विस्‍तार से जानते हैं। 

दरअसल, वॉट्सऐप में अभी तक किसी वॉयस असिस्‍टेंट का इंटीग्रेशन नहीं है। गूगल अस‍िस्‍टेंट की मदद से वॉट्सऐप के जरिए कोई मैसेज नहीं भेजा जा सकता। रिपोर्टों के मुताबिक, वॉट्सऐप के मालिकाना हक वाली कंपनी मेटा इसका सॉल्‍यूशन निकाल रही है। इसे गूगल असिस्‍टेंट की बजाए फेसबुक असिस्‍टेंट के जरिए मुमकिन करने की तैयारी है।     

xda-developers ने अपनी रिपोर्ट में बताया है कि वॉट्सऐप उस फीचर पर काम कर सकता है, जिसके तहत यूजर्स को फेसबुक असिस्टेंट के जरिए उनके रे-बैन स्टोरीज स्मार्ट ग्लास पर मैसेज भेजने की सुविधा मिल सकती है। इसके बाद रे-बैन स्‍मार्ट ग्‍लास यूजर्स अपने चश्‍मे को फोन पर वॉट्सऐप के साथ लिंक कर सकेंगे और जेब से फोन निकाले बिना मैसेज भेजने में सक्षम होंगे। 

यहां सारा काम फेसबुक असिस्‍टेंट और रे-बैन स्मार्ट ग्लास के जरिए पूरा होगा। यानी यह फीचर रे-बैन स्टोरीज यूजर्स को स्मार्ट ग्लास पर माइक्रोफोन के जरिए मैसेज भेजने की सुविधा देगा। यूजर्स फोन को छुए बिना वॉट्सऐप पर अपने फ्रेंड को मैसेज भेज सकेंगे।

बताया जाता है कि फेसबुक असिस्‍टेंट और रे-बैन स्मार्ट ग्लास के जरिए मैसेज भेजते समय भी यूजर्स को एंड टु एंड एन्क्रिप्‍शन मिलेगा। यानी मैसेज सिर्फ दो लोगों के बीच रहेगा कोई तीसरा उसे एक्‍सेस नहीं कर सकेगा। वॉट्सऐप भी नहीं। 

अभी साफ नहीं है कि यह फीचर कब रोल आउट होगा। लेकिन एक बात तय है। इस फीचर का फायदा सिर्फ उन यूजर्स को होगा, जिनके पास रे-बैन स्टोरीज स्मार्ट ग्लास हैं और वो वॉट्सऐप इस्‍तेमाल करते हैं। अगर वो प्‍लेटफॉर्म पर मैसेज भेजने के लिए वॉयस कमांड का इस्‍तेमाल करना चाहते हैं, तो इस फीचर को इस्‍तेमाल कर पाएंगे। 

भले ही यह फीचर आम यूजर से जुड़ा ना हो, लेकिन इससे पता चलता है कि टेक्‍नॉलजी आने वाले वक्‍त में कितनी फ्रेंडली होने वाली है।    

 

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.